यूरोप में राष्ट्रवाद का उदय Important Questions || Class 10 Social Science (History) Chapter 1 in Hindi ||

Class 10 History Importance Question In Hindi
Share Now on

पाठ – 1

यूरोप में राष्ट्रवाद का उदय

In this post we have mentioned all the important questions of class 10 Social Science (History) chapter 1 The Rise of Nationalism in Europe in Hindi

इस पोस्ट में कक्षा 10 के सामाजिक विज्ञान (इतिहास) के पाठ 1 यूरोप में राष्ट्रवाद का उदय  के सभी महतवपूर्ण प्रश्नो का वर्णन किया गया है। यह उन सभी विद्यार्थियों के लिए आवश्यक है जो इस वर्ष कक्षा 10 में है एवं सामाजिक विज्ञान (इतिहास) विषय पढ़ रहे है।

BoardCBSE Board, UP Board, JAC Board, Bihar Board, HBSE Board, UBSE Board, PSEB Board, RBSE Board
TextbookNCERT
ClassClass 10
SubjectSocial Science (History)
Chapter no.Chapter 1
Chapter Nameयूरोप में राष्ट्रवाद (The Rise of Nationalism in Europe)
CategoryClass 10 Social Science (History) Important Questions in Hindi
MediumHindi
Class 10 Social Science (History) Chapter 1 यूरोप में राष्ट्रवाद Important Questions in Hindi

Chapter 1 यूरोप में राष्ट्रवाद का उदय

लघु उत्तरीय प्रश्न (1 अंक) 

प्रश्न 1 फ्रेडरिक सारयू कौन था ? 

उत्तर: फ्रांसीसी चित्रकार

प्रश्न 2 अनस्ट रेनन कौन था ? 

उत्तर: फ्रांसीसी दार्शनिक

प्रश्न 3 जर्मन राष्ट्र का रूपक क्या था? वह किस बात का प्रतीक था ? 

उत्तर: जर्मेनिया। जर्मन बलूत वीरता का प्रतीक है।

प्रश्न 4 मांटेस्क्यू ने किस सिद्धांत का प्रतिपादन किया? 

उत्तर: शक्ति पृथक्करण का सिद्धांत या अधिकार विभाजन

प्रश्न 5 कौन सी विश्वविख्यात घटना को राष्ट्रवाद की पहली स्पष्ट अभिव्यक्ति माना जाता है ? 

उत्तर: फ्रांसीसी क्रांति

प्रश्न 6 जॉलवेराइन क्या था व किस प्रकार वह जर्मनी के आर्थिक एकीकरण का प्रतीक था? 

उत्तर: एक जर्मन शुल्क संघ। इसमें अधिकांश जर्मन राज्य शामिल थे। 1834 में स्थापित इस संघ ने विभिन्न जर्मन राज्यों के बीच शुल्क अवरोधों को समाप्त किया व मुद्राओं की संख्या तीस से दो कर दी। इस प्रकार यह आर्थिक एकीकरण का प्रतीक था।

प्रश्न 7 मेत्सिनी द्वारा स्थापित दो भूमिगत संगठनों के नाम लिखिए। 

उत्तर: 1) यंग इटली 2) यंग यूरोप 

प्रश्न 8 19वीं सदी में ऐसी कौन सी ताकत उभरी जिसने यूरोप की राजनैतिक और भौतिक दुनिया में भारी परिवर्तन किये ?

उत्तर: राष्ट्र राज्य का उदय 

प्रश्न 9 बाल्कन क्षेत्र के निवासियों को क्या कहा जाता था ? 

उत्तर: स्लाव

प्रश्न 10 वियना कांग्रेस किस वर्ष आयोजित की गई ? 

उत्तर: 1815

प्रश्न 11 1815 की वियना सन्धि से किसका सम्बन्ध है ? 

उत्तर: ड्यूक मैटरनिख

प्रश्न 12 नैपोलियन युद्धों के दौरान हुए बदलावों को खत्म करना किस सन्धि का उद्देश्य था ?

उत्तर: वियना संधि

प्रश्न 13 किसने कहा था कि जब फ्रांस छींकता है तो बाकी यूरोप को सर्दी जुकाम हो जाता है ? 

उत्तर: मैटरनिख

प्रश्न 14 किस संधि ने यूनान को एक स्वतंत्र देश के रूप में मान्यता दी?

उत्तर: कांस्टेन्टीनोपल संधि

प्रश्न 15 आयरलैंड में प्रोटेस्टेन्ट के विरूद्ध आंदोलन का नेतृत्व किसने किया ? 

उत्तर: वोल्फटोन 

प्रश्न 16 आँखों पर पट्टी बांधे हुए और हाथ में तराजू लिये हुए महिला किस बात का प्रतीक है?

उत्तर: न्याय

लघु/ दीर्घ प्रश्न (3/5 अंक वाले) 

प्रश्न 1 फ्रांसीसी क्रांन्तिकारियों ने फ्रांसीसी लोगों में सामूहिक पहचान की भावना किस प्रकार पैदा की ? 

उत्तर:

  • पितृभक्ति और नागरिकता के विचार
  • नए राष्ट्रीय चिह्न 
  • केन्द्रीकृत प्रशासनिक व्यवस्था 
  • राष्ट्रीय भाषा 
  • एक समान भार व मान की व्यवस्था।

प्रश्न 2 ‘नेपोलियन ने प्रशासनिक क्षेत्र में क्रांतिकारी सिद्धांतो का समावेश किया जिसने पूरी व्यवस्था को अधिक कुशल व तर्कसंगत बना दिया।’ समीक्षा कीजिए? 

उत्तर:

  • नेपोलियन की संहिता
  • ग्रामीण प्रशासनिक व्यवस्था में सुधार 
  • शहरी क्षेत्र में सुधार 
  • व्यापार में सुधार

प्रश्न 3 यूरोप के “राष्ट्र’ के विचार के निर्माण में संस्कृति ने किस प्रकार महत्वपूर्ण भूमिका निभाई ? 

उत्तर:

  • कला, काव्य, कहानियों, संगीत ने राष्ट्रवादी भावनाओं को विकसित किया 
  • लोकगीत, जन-काव्य व लोक नृत्य
  • स्थानीय बोलियों व लोक साहित्य पर बल 
  • भाषा 

प्रश्न 4 जर्मनी के एकीकरण की प्रक्रिया का वर्णन कीजिए? 

उत्तर:

  • आरंभ विलियम प्रथम के प्रशा के सिंहासन पर आसीन होना। 
  • बिस्मार्क द्वारा जर्मन एकीकरण की भूमिका तैयार करना। 
  • वियना कांग्रेस 
  • फ्रैंकफर्ट पार्लियामैंट 
  • एकीकरण में बाधाएँ 
  • बिस्मार्क द्वारा ऑस्ट्रिया, फ्रांस आदि पराजित, विश्व शक्तियों को तटस्थ करना व एकीकृत जर्मनी का एक राष्ट्र के रूप में उभरना।

प्रश्न 5 इटली के एकीकरण की प्रक्रिया का वर्णन करें। इसके मार्ग में आने वाली मुख्य बाधाएं क्या थीं ? 

उत्तर: एकीकरण की प्रक्रिया :

  • 1832 – कावूर सार्डीनिया का प्रधानमंत्री बना। फ्रांस से संधि, ऑस्ट्रिया पराजित व 1859 में लुंबार्डी को राज्य में मिला लिया। 
  • द्वितीय चरण – मोडेना, टस्कनी, पार्मा आदि का जनमत संग्रह द्वारा सार्डीनिया में विलय। 
  • तृतीय चरण – 1860 में गैरीबाल्डी द्वारा सिसली व नेपल्स पर विजय। 
  • चतुर्थ चरण – वेनेशिया व रोम पर अधिकार। 
  • 1871 में पोप से समझौता व एकीकृत इटली का उदय।

एकीकरण में बाधाएँ :

  • राजनीतिक विखंडन का लंबा इतिहास 
  • विदेशी शक्तियों का आधिपत्य
  • पोप का शासन
  • वियना कांग्रेस 
  • अनुदारवादी शासक।

प्रश्न 6 ब्रिटेन में राष्ट्र राज्य का निर्माण एक लंबी प्रक्रिया का परिणाम किस प्रकार था ? 

उत्तर:

  • यह किसी उथल-पुथल या क्रांति का नहीं, एक लंबी चलने वाली प्रक्रिया का नतीजा था। 
  • पहले नृजातीय पहचान। राष्ट्र की अहमियत व सत्ता में वृद्धि। 
  • 1688 में राजतंत्र से संसद द्वारा ताकत छीना जाना 
  • 1707 में यूनाइटेड किंगडम ऑफ ब्रिटेन का गठन। 
  • स्कॉटलैंड पर प्रभुत्व। आयरलैंड को 1801 में बलपूर्वक यूनाईटेड किंगडम में शामिल किया गया। 
  • नए ब्रिट्रिश राष्ट्र का निर्माण। आंग्ल संस्कृति का दबदबा। 
  • राष्ट्र के प्रतीक – झंडा व राष्ट्रगान को बढ़ावा। पुराने राष्ट्र, मात्र सहयोगी रूप में।

प्रश्न 7 यूरोप में राष्ट्रवाद के उत्थान के लिए कौन से कारण उत्तरदायी थे ? 

उत्तर: यूरोप पर प्रभाव – 

  • राष्ट्र-राज्यों का उदय 
  • लोकतंत्रीय सिद्धांत को बढ़ावा 
  • सामाजिक, राजनैतिक, आर्थिक समानता पर बल 
  • अन्य राष्ट्रो में मानवीय अधिकारों की मांग 
  • निरंकुश राजतंत्रों में क्रांतिकारी प्रतिक्रियाएँ।

प्रश्न 8 फ्रांसीसी क्रांति का न केवल फ्रांस पर अपितु पूरे विश्व पर गहरा प्रभाव पड़ा। समीक्षा कीजिए ?

उत्तर: फ्रांस पर प्रभाव – 

  • लोकतांत्रिक शासन की स्थापना 
  • लोक कल्याणकारी कार्य 
  • समानता, स्वतंत्रता, भ्रातृत्व से भरे नए समाज की नींव 
  • नवीन कानून संहिता लागू 
  • नेशनल असेंबली का गठन
  • आर्थिक एकीकरण 
  • कानून के समक्ष बराबरी, 
  • संपत्ति का अधिकार सुरक्षित। 
    • मध्यम वर्ग का उदय 
    • उदारवादी विचारधारा का प्रारंभ 
    • यूनान का स्वतंत्रता संग्राम 
    • संस्कृति व भाषा की भूमिका 
    • जन विद्रोह

प्रश्न 9 1804 की नागरिक संहिता के प्रावधानों का उल्लेख कीजिए? 

उत्तर:

  • जन्म पर आधारित सुविधाओं की समाप्ति। 
  • सम्पत्ति के अधिकार की बहाली 
  • ज़मींदारी व सामंती व्यवस्था की समाप्ति। 
  • यातायात तथा संचार व्यवस्था में सुधार। 
  • मानक नाप-तौल के पैमाने चलाए गए। 
  • एक राष्ट्र मुद्रा चलाई गई।

प्रश्न 10 यूरोप के कुलीन वर्ग की विशेषताएँ लिखिए ? 

उत्तर:

  • जीवन जीने की समान शैली 
  • भू-स्वामित्व 
  • कूटनीतिक भाषा 
  • आपस में वैवाहिक संबंध 
  • उच्च वर्गों के बीच फ्रेंच भाषा का प्रयोग

प्रश्न 11 1815 की वियना संधि के उद्देश्य बताइए। इसके प्रमुख प्रस्ताव व व्यवस्थाओं का वर्णन कीजिए।

उत्तर:

  • उत्तरी नीदरलैंड में साम्राज्य की स्थापना 
  • दक्षिण में जेनेवा को पिडमाण्ट के साथ मिला दिया गया। 
  • प्रशा को पश्चिम में नए क्षेत्र दिए गए। 
  • पूर्व में रूस को पोलैंण्ड का हिस्सा दे दिया गया। 
  • ऑस्ट्रिया को उत्तरी इटली का नियंत्रण सौंपा गया।

प्रश्न 12 यूरोप में उदारवादियों द्वारा समर्थित राजनैतिक, सामाजिक और आर्थिक आदर्श क्या थे ? 

उत्तर:

  • कानून के समक्ष समानता 
  • व्यस्क मताधिकार के पक्ष में नहीं 
  • बाज़ार की स्वतंत्रता तथा राज्य द्वारा वस्तुओं एवं पूंजी के प्रवाह पर लगे प्रतिबन्ध को समाप्त करने के पक्षधर।

प्रश्न 13 औद्योगीकरण की वृद्धि ने किस प्रकार यूरोप के सामाजिक और राजनैतिक समीकरण बदल दिए?

उत्तर: 

  • पश्चिमी और मध्य यूरोप के हिस्सों में औद्योगिक उत्पादन और व्यापार में वृद्धि। शहरों को विकास और वाणिज्यिक वर्गों का उदर। 
  • श्रमिक व मध्य वर्ग का उदय। 
  • ‘कुलीन विशेषाधिकार की समाप्ति’ के विचारों की लोकप्रियता।

प्रश्न 14 यूरोप के राष्ट्रवादी संघर्षों में महिलाओं की भूमिका क्या थी ? 

उत्तर:

  • स्वयं के राजनैतिक संगठन बनाना। 
  • समाचार पत्रों का प्रकाशन। 
  • मताधिकार प्राप्ति हेतु संघर्ष। 
  • राजनैतिक बैठकों तथा प्रदर्शनों में हिस्सा लेना।

प्रश्न 15 19वीं सदी में यूरोप में राष्ट्रवाद की लहर के क्या कारण थे? 

उत्तर:

  • जनता पर अत्याचार 
  • निरंकुश शासन व्यवस्था 
  • उदारवादी विचारों का प्रसार 
  • स्वतंत्रता, समानता तथा बंधुत्व का नारा। 
  • शिक्षित मध्य वर्ग की भूमिका।

प्रश्न 16 1815-1914 के दौरान अन्तर्राष्ट्रीय आर्थिक विनिमय केन्द्रों के तीन प्रवाहों को विस्तार से लिखिए ? 

उत्तर:

  • वस्तुओं का प्रवाह 
  • पूँजी का प्रवाह 
  • लोगों का प्रवाह।

प्रश्न 17 यूरोप में 1871 के बाद बाल्कन क्षेत्रों में बनी विस्फोटक परिस्थितियों का वर्णन कीजिए?

उत्तर:

  • बाल्कन क्षेत्रों में भौगालिक और जातीय भिन्नता थी। जैसे रोमनिया, बुल्गेरिया, अल्बेनिया आदि देशों मे। 
  • ऑटोमन साम्राज्य के विघटन के कारण बाल्कन में विस्फोटक स्थति बन गई।
  • बाल्कन क्षेत्र में विद्रोही राष्ट्रीय समूहों ने अपने संघर्षों को लंबे समय में खोई आजादी को वापस लेने के अवसर के रूप में देखा। 
  • बाल्कन क्षेत्रों में बड़ी शक्तियों के बीच व्यापार और नौसैनिक शक्ति के लिए प्रतिस्पर्धा होने लगी। 
  • हर एक राज्य अपने लिए ज्यादा क्षेत्र हथियाने की उम्मीद रखता था।

We hope that class 10 Social Science (History) Chapter 1 यूरोप में राष्ट्रवाद (The Rise of Nationalism in Europe) Important Questions in Hindi helped you. If you have any queries about class 10 Social Science (History) Chapter 1 यूरोप में राष्ट्रवाद (The Rise of Nationalism in Europe) Important Questions in Hindi or about any other Important Questions of class 10 Social Science (History) in Hindi, so you can comment below. We will reach you as soon as possible.

हमें उम्मीद है कि कक्षा 10 सामजिक विज्ञान (इतिहास) अध्याय 1 यूरोप में राष्ट्रवाद (The Rise of Nationalism in Europe) हिंदी के महत्वपूर्ण प्रश्नों ने आपकी मदद की। यदि आपके पास कक्षा 10 सामजिक विज्ञान (इतिहास) अध्याय 1 यूरोप में राष्ट्रवाद (The Rise of Nationalism in Europe) के महत्वपूर्ण प्रश्नो या कक्षा 10 के किसी अन्य महत्वपूर्ण प्रश्न, नोट्स, वस्तुनिष्ठ प्रश्न, क्विज़, या पिछले वर्ष के प्रश्नपत्रों के बारे में कोई सवाल है तो आप हमें [email protected] पर मेल कर सकते हैं या नीचे comment कर सकते हैं। 


Share Now on

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *